चेतावनी
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग, द्वारा जारी की गई पूर्वानुमान/ चेतावनी हेतु केंद्र की वेब साइट http://www.imd.gov.in/ का निरीक्षण करें|

हीट वेव

लू / गरम हवायें

प्रदेश के अधिकांश हिस्से मई एवं जून के माह मे लू से प्रभावित होता है। इन माहों मे औसत तापकर्म 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक होता है । इस अति तापकर्म तथा गरम हवाओ के कारण बड़ी संख्या मे लोग बीमार होते है तथा उनके मृत्यु भी होती है। बिगत वर्षो मे अतिताप एवं लू प्रदेश मे एक महत्वपूर्ण एवं अतिसंवेंदंशील खतरे के रूप मे चिन्हित्त किया गया है। सामान्यजन को यह जानना आवश्यक है कि प्रदेश मे लू अथवा गर्म हवाएं एक गंभीर स्थिति है तथा यदि हम आवश्यक निरोधी उपाय नहीं अपनायेंगे तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं । अतः जन सामान्य को लू अथवा गर्म हवाओं के दौरान अपनाएं जाने वाली आवश्यक सावधानियां के बारे में उचित जानकारी का होना अत्यन्त आवश्यक है।