औद्योगिक दुर्घटना

औद्योगिक दुर्घटनायें

औद्योगिक दुर्घटनाओं से तात्पर्य ऐसी दुर्घटनाओं से, जो खतरनाक रसायनों के परिवहन, भंडारण अथवा उपयोग के दौरान निम्न रूप से घटित होती हैः-

  • आग
  • विस्फोट
  • खतरनाक जहरीली गैसों का रिसाव

ऐसी दुर्घटनाएं औद्योगिक क्षेत्रों, राष्ट्रीय तथा राजकीय राजमार्ग जिनसे खतरनाक रसायनों का परिवहन किया जाता है, तथा रासायनिक भण्डारण क्षेत्रों में घटित हो सकती है। औद्योगिक आपदा उचित पूर्व तैयारी के पूर्णतः रोका जा सकता है । पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986 के अंतर्गत बनाये गये नियमों के प्रावधानों के अंतर्गत मध्यप्रदेष के 23 जिलेइंदौर,धार,खण्डवा,उज्जैन,रतलाम,देवास,शाजापुर,भोपाल,सीहोर,रायसेन,विदिशा,जबलपुर,छिंदवाड़ा,मण्डला,ग्वालियर,गुना,शिवपुरी,भिंड,मुरैना,शहडोल,सिंगरौली,पन्ना,सागरमें कुल 73 अति खतरनाक श्रेणी के उद्योग स्थित हैं । अति खतरनाक श्रेणी के उद्योग स्थित होने के कारण प्रदेष के निम्न जिले औद्योगिक आपदा के प्रति संवेदनषील हैं । इन औद्योगिक क्षेत्रों से जुड़े हुए राष्ट्रीय तथा राज्य के राजमार्ग भी खतरनाक रसायनों के परिवहन के कारण औद्योगिक दुर्घटना की दृष्टि से संवेदनशील हैं ।

ind_hazard_area_pic

अंतिम बार अपडेट किया:05 Dec, 2018

नया क्या है
  • 31-Dec-2019new-iconबाढ़ आपदा प्रबंधन पूर्व तैयारी हेतु जिला प्राधिकरण को सुझावऔर पढ़ें

आपातकालीन संपर्क

Wheather-Photo